Best Poetry in Hindi

कवितायें जिसकी आपको तलाश है, वो Poetry आपको यहाँ पर मिल सकती है Hindi में,

Poems तो हम सभी को पसंद होती है पर अगर हमारी ही भाषा Hindi में हो तो उसके अर्थ को हम अच्छे से समझ पाते है और उसको महसूस कर पाते है,

इस लिए Daily Inspiration Board आपकी तलाश और भावनाओं को ध्यान में रखते हुए आपके लिए लाया है hindi में best unique poetry,

Poetry Hindi में

Hindi-में-Poems

“कुछ तो रहेगा बाकी”

तू है वही मुसाफिर जिसका कोई नहीं है साथी,

तू कितना भी पा ले जीवन में पर कभी ना होगा काफी,

कुछ तो रहेगा बाकी, कुछ तो रहेगा बाकी,

पैदा होते ही लोगों की उम्मीदें तुमसे लग जाती,

पर करना पड़ता है तुमको सब अकेले ही,

जो कुछ बचा है बाकी, जो कुछ बचा है बाकी,

एक हासिल होने पर एक नया उम्मीद लग जाती,

हर बार सोचोगे तुम्हारा यह ही मंजिल होगा आखिर,

आशा मरने से पहले तेरे से ना जाती,

अगर जाती तो पहले ही जीवन जीते जी खत्म हो जाती,

तू है वही मुसाफिर जिसका कोई नहीं है साथी,

तू कितना भी पा ले जीवन में कभी ना होगा काफी,

कुछ तो रहेगा बाकी, कुछ तो रहेगा बाकी,

जो मंजिल अच्छी लगती है उसकी राह कठिन मिलती है

चलते चलते नई राह दिख जाती आकर तेरे सामने तुझको बड़ा उलझाती,

बदल लेता तू साथी एक अच्छी मंजिल तेरा वह रह जाता बाकी,

आधे में छोड़ देता तो उम्मीद टूट जाती

जीवन भर रह जाता बस पछताना बाकी,

तू है वही मुसाफिर जिसका कोई नहीं है साथी,

तू कितना भी पाले जीवन में कभी ना होगा काफी,

कुछ तो रहेगा बाकी, कुछ तो रहेगा बाकी,

खेलकूद के चक्कर में पढ़ाई रह गया बाकी,

पढ़ने बैठ जाता तो खेलकूद रह जाती,

जवानी आ गई अभी भी बचपन रह गया बाकी,

कंधों पर आते ही जिम्मेदारी उम्मीदे है बढ़ जाती,

बचपन के सारे सपने रह गए अधूरे बाकी,

तू है वही मुसाफिर जिसका कोई नहीं है साथी,

तू कितना भी पाले जीवन में कभी ना होगा काफी,

कुछ तो रहेगा बाकी, कुछ तो रहेगा बाकी,

Moral of the poetry:-

हम जिंदगी में सब कुछ एक साथ पाना चाहते है, एक पाले ते है तो एक और पाने की चाह पाल लेते है, हम सन्तुष्ट कभी नहीं हो पाते,

हम जो पा ना सके उसका अफ़सोस नहीं करना चाहिए, क्यों की अगर वो मिला होता तो भी कुछ और रह जाता मिलना शायद, जो है आज आपके पास वो रह जाता,तब शायद इसके ना मिलने का अफ़सोस होता, तो बाकि तो कुछ ना कुछ रह ही जायेगा अगर आपमें संतुष्ट होने की भावना नहीं है तो,

अगली Poetry hindi में

Poetry-Hindi-में

ख्वाब ये बड़ी हसीन है

ख्वाब ये बड़ी हसीन है देखते रहो इन्हें,

मिल जाएगी एक दिन सोचते रहो इन्हें,

धैर्य तुम्हें रखना होगा साथ तेरे यह विचार कर लो,

मेहनत भी उसके साथ दिन-रात कर लो,

दुनिया भटकाएगी कितना भी भटकना नहीं, खुद के सोच पर विश्वास करना लो,

ख्वाब ये बड़ी हसीन है देखते रहो इन्हें,

मिल जाएगी एक दिन सोचते रहो इन्हें,

हार जाओ भले सब कुछ हिम्मत कभी हारना नहीं ,

जल्दबाजी कर के आने वाले कल को बिगाड़ना नहीं,

कोशिश तूने हजार किया है एक और जोड़ जाना वहीं,

इतनी मेहनत के बाद भी रह जाए पछताना नहीं,

जो दोस्त मदद करने आएंगे सौदा करके वे जाएंगे ,

अपनी समस्या खुद ही सुलझाओ किसी और के पास लेकर जाना नहीं इन्हें,

ख्वाब ये बड़ी हसीन है देखते रहो इन्हें ,

मिल जाएगी एक दिन सोचते रहो इन्हें,

समय लगेगा पाने में कुछ भी नया बनाने में,

बुद्धि और बल दोनों साथ लगाकर मेहनत करना पड़ता है,

बिना इसके कुछ नहीं मिलता जमाने में,

कई बार अपने भी तेरा साथ नहीं देंगे ख्वाब तेरा पाने में,

क्योंकि जो तुम देखते हो वह देख नहीं पाते इन्हें,

ख्वाब ये बड़ी हसीन है देखते रहो इन्हें,

रुकना नहीं चलते हुए मंजिल की राहों पर ,

चाहे कितना भी पड़े हो कांटे राह बनाते चलो, तुम अपना किनारे करके इन्हें,

ख्वाब ये बड़ी हसीन है देखते रहो इन्हें,

मिल जाएगी एक दिन सोचते रहो इन्हें,

Morality of this hindi poetry-

“हम जब कोई ख़्वाब देखते है, या कुछ योजना बनाते है तो उस पर यकीन करना चाहिए की हम एक दिन उसको हासिल कर लेंगे, उसको पाने का विचार और प्रयास करते रहे,!


यदि आप इंग्लिश में भी कविताएँ (Poetry) पसंद करते है, तो आपको एक बार इस website www.InspirationalDeskTops.com को भी visit करना चाहिए,


By Daily Inspiration Board & Inspirational DeskTops

Back to top button